Archive | Main Top Left

मार्च में फैसला लेंगी बहिन जी

Posted on 27 November 2023 by admin


बसपा नेत्री मायावती को पूरा भरोसा है कि इन पांच राज्यों के चुनाव में भी कम से कम दो राज्यों में उनकी पार्टी अपनी उपस्थिति दर्ज कराने में कामयाब रहेगी, जैसे मध्य प्रदेश के ग्वालियर चंबल संभाग की जिस सीट पर केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर लड़ रहे हैं, वहां की बसपा प्रत्याशी ने सबको पानी पिला रखा है। तोमर इस लड़ाई में पिछड़ते नज़र आ रहे हैं। मायावती को भी अपने कैडर से लगातार यह रिपोर्ट प्राप्त हो रही है कि ’अगर 2024 के चुनाव में उन्हें अपनी पार्टी का अस्तित्व बचाए रखना है तो उन्हें यूपी में सपा या कांग्रेस या फिर दोनों दलों के साथ गठबंधन करना ही होगा।’ 15 जनवरी को बहिन जी का बर्थडे आता है, इस बार भी उनके जन्मदिन को बडे़ जोर-शोर से मनाने की तैयारी है, उम्मीद जताई जा रही है कि उनके बर्थडे को सेलिब्रेट करने के लिए अखिलेश व राहुल गांधी दोनों ही नेता आ सकते हैं। कम से कम अखिलेश का आना तो पक्का ही माना जा रहा है। इस दौरान अखिलेश की अपनी बुआ के संग वन-टू-वन बातचीत हो सकती है, सूत्र बताते हैं कि अगर इस मौके पर गठबंधन का कोई फार्मूला बन भी जाता है तो बहिन जी इसकी घोषणा मार्च में ही करेंगी, ताकि सत्तारूढ़ भाजपा के अतिरिक्त दबाव से बचा जा सके।

Comments Off on मार्च में फैसला लेंगी बहिन जी

नृपेंद्र मिश्र का खुलासा

Posted on 27 November 2023 by admin


पिछले दिनों राम मंदिर निर्माण कमेटी के चेयरमैन नृपेंद्र मिश्र ने खुलासा किया कि जब पीएमओ से उन्हें रिटायर किया गया तो वे चाहते थे कि उन्हें किसी राज्य का गवर्नर बना दिया जाए। पर ऐसा कुछ हुआ नहीं और वे घर पर ही दिन काटते रहे। इसके बाद जब सुप्रीम कोर्ट ने राम मंदिर पर कमेटी बनाने का आदेश दिया तो वे एक दिन अचानक अमित शाह से मिलने जा पहुंचे, षाह के प्रयासों से वे कमेटी के चेयरमैन बना दिए गए। पर दिलचस्प है कि चाहे नृपेंद्र मिश्र कितने भी इंटरव्यू दे दें, भाजपा को कहीं न कहीं उनके मुकाबले रामभूमि तीर्थ के महासचिव चंपत राय ज्यादा पसंद हैं, क्योंकि अगर राम मंदिर बनने की पूरी कहानी अगर किसी को जुबानी सुनानी है तो भाजपा का ऑफिशियल ‘एक्स हेंडल’ चंपत राय को ट्वीट करता है।

Comments Off on नृपेंद्र मिश्र का खुलासा

‘इंडिया’ का खटराग आया सामने

Posted on 30 September 2023 by admin

चौधरी देवीलाल की 110वीं जयंती को चौटाला परिवार ने कैथल में रैली की शक्ल में ‘सम्मान दिवस’ के रूप में मनाया। इस रैली को कुछ इस तरह से प्रचारित किया गया था जैसे यह विपक्षी गठबंधन इंडिया की रैली हो। सो, इसमें शामिल होने के लिए चौटाला परिवार ने खास तौर पर सोनिया व राहुल को न्यौता भेजा था, पर वे दोनों क्या कांग्रेस का कोई अदना नेता भी इस रैली में शामिल नहीं हुआ। जो आए उनके आने का कोई खास मतलब नहीं था, जैसे नेशनल कांफ्रेंस की ओर से फारूक अब्दुल्लाह, टीएमसी की ओर से डेरेक ओ ब्रायन, जदयू की ओर से केसी त्यागी, अकाली दल के सुखबीर बादल व आजाद समाज पार्टी के चंद्रशेखर आजाद ’रावण’ शामिल हुए। नीतीश कुमार कह के भी नहीं आए, उन्होंने दीनदयाल उपाध्याय जयंती पर एक पूर्व निर्धारित कार्यक्रम का बहाना बना दिया। जबकि पिछले साल वे इसी तारीख को आयोजित फतेहाबाद रैली में शामिल हुए थे, फतेहाबाद रैली में तेजस्वी भी आ गए थे। कैथल रैली में ओम प्रकाश चौटाला ने अपने पुत्र अभय चौटाला को अपना वारिस घोषित कर दिया। दरअसल, कांग्रेस चौटाला परिवार के ‘इंडियन नेशनल लोकदल’ की ‘इंडिया’ गठबंधन में एंट्री नहीं चाहती है, क्योंकि हरियाणा में दोनों पार्टियों की रणभूमि एक है, और जाट वोटरों पर वर्चस्व की जंग भी इन्हीं दोनों पार्टियों में छिड़ी है। सो, जब इंडिया के पिछले मुंबई अधिवेशन में नीतीश अभय चौटाला को ले जाना चाहते थे तो राहुल ने इसके लिए तब साफतौर पर मना कर दिया था। राहुल को इस बात पर भी आपत्ति थी कि चौटाला परिवार के तार सुखबीर बादल से भी जुड़े हुए हैं जिन्हें अमित शाह का बेहद भरोसेमंद माना जाता है। 

Comments Off on ‘इंडिया’ का खटराग आया सामने

क्या होगा अगर बागी हुई वसुंधरा

Posted on 16 September 2023 by admin

राजस्थान के भगवा सियासी फिज़ाओं में असंतोश के बादलों का उमड़ना-घुमड़ना जारी है, अभी पिछले दिनों की बात है जब राजस्थान कांग्रेस की स्क्रीनिंग कमेटी के सदस्य गण जयपुर से दिल्ली की फ्लाइट पकड़ने के लिए एयरपोर्ट पहुंचे तो वे एक सुखद आश्चर्य में डूब गए, जब उन्हें वहां वसुंधरा राजे सिंधिया के दीदार हो गए, वसंधुरा भी उसी फ्लाइट से दिल्ली जाने वाली थीं। किसी कारण वश वह फ्लाइट डेढ़ घंटे लेट हो गई, फिर क्या था कांग्रेस नेता गणों ने वसुंधरा के साथ अपनी तस्वीरें खिंचवानी शुरू कर दी, वह भी बारी बारी से, वसुंधरा ने भी सहर्ष भाव से अपने विरोधी पार्टी के नेताओं को यह मौका दिया। कई कांग्रेसी नेताओं ने उसी वक्त वसुंधरा के साथ अपनी वह तस्वीर ट्वीट भी कर दी। इन कांग्रेसी नेताओं को बातों ही बातों में वसुंधरा ने बताया कि राजस्थान में इस दफे का चुनाव भाजपा पीएम मोदी के चेहरे पर लड़ने जा रही है, इस चुनाव में उन्हें यानी वसुंधरा को पार्टी ने कोई खास रोल नहीं बख्शा है। कांग्रेसी नेताओं के हवाले से यह भी बात निकली है कि वसुंधरा ने स्पष्ट कर दिया है कि ’यदि उनकी पार्टी भाजपा उनके लिए कोई रोल सुनिश्चित करती है तो इस चुनाव में वह न्यूट्रल रहेंगी, उन्हें कोई रोल अगर नहीं दिया गया तो फिर वह अपनी मर्जी से अपनी भूमिका का चुनाव करेंगी।’ वहीं वसुंधरा वफादार कैलाश मेघवाल को भाजपा ने भ्रष्टाचार के आरोपों पर पार्टी से निलंबित कर दिया है, मेघवाल ने बतौर निर्दलीय भाजपा के अधिकृत उम्मीदवार के खिलाफ चुनाव लड़ने का ऐलान कर दिया है, क्या राजस्थान में बागी आहटों की मुनादी हो चुकी है?

Comments Off on क्या होगा अगर बागी हुई वसुंधरा

(Hindi) दीदी का राहुल मानिया

Posted on 28 August 2021 by admin

Sorry, this entry is only available in Hindi.

Comments Off on (Hindi) दीदी का राहुल मानिया

…And finally

Posted on 07 February 2021 by admin

In the recent past, Lok Sabha Speaker Om Birla was seen in Parliament in a new avatar. He came across as calm, sober, and soft-spoken. Over the time as MP and then as the Lok Sabha Speaker, Birla has made personal connections with MPs of opposing parties, and even in the House proceedings, he gives ample opportunity to the MPs of the opposition parties to speak during debates. But recently, he shunned this new ‘shiny image’, when Punjab AAP MP Bhagwant Mann stood up to say something, the speaker stood in his place of aggressively shouted in a loud voice – ‘Chup’ (Silence). Everyone was left stunned. Later, it was learned that Bhagwant Mann had come in the ‘Well’ in front of the Speaker opposing the Agricultural Bill of which the Speaker felt very bad about.

Comments Off on …And finally

Let’s play commission-commission

Posted on 29 December 2013 by admin

Now the Congress and the BJP will play the game of commission amongst each other. Despite reservations by the BJP, Congress has formed a commission on Snoopgate, which means it is trying all it can to frame Modi. The BJP is also ready to retaliate and Rajasthan’s Vasundhara-headed BJP government is going to form a commission against Gandhi family’s son-in-law Robert Vadra’s land deal. Five Parliamentarians from the BJP had demanded Vasundhara to constitute  a commission.

Comments Off on Let’s play commission-commission

Justice to go

Posted on 22 December 2013 by admin

The new year may bring heartache and allegations for Justice A K Ganguly. In the year 2014, he may have to relinquish the post of chairperson of West Bengal’s Human Rights Commission. The attorney general has let his opinion be known on this to the Law Ministry. The reference can happen only after this. Some Constitutional posts in our country are such that people occupying these positions can’t be impeached directly. The President can take some action on it only after an enquiry by the Supreme Court. Which means the entire procedure may take merely 10-12 days.

Comments Off on Justice to go

Maharaja’s pleading

Posted on 14 December 2013 by admin

Jyotiraditya Scindia left no stone unturned when it came to trying to get his party to win the elections in Madhya Pradesh. An emotional Scindia told the crowd at Gwalior, “My ajji isn’t alive, my baba is gone too, now all I have is you.” But the people didn’t listen to their Maharaja and the Congress lost all the seats of Guna, including 4 seats in Gwalior region.

 

Comments Off on Maharaja’s pleading

Chhattisgarh’s numbers just don’t add up

Posted on 08 December 2013 by admin

The BJP in Chhattisgarh faces a threat from within – the BJP members are out to ruin the BJP. The biggest problem is with ‘Chour wale baba’ Raman Singh. Some BJP and Sangh members have gotten together to see him defeated on his own territory. Saudan Singh is said to be the most upset with Raman Singh. Raman camp claims that Saudan Singh wants the BJP to win in Chhattisgarh but that Dr Raman Singh should lost his Assembly seat. Sources reveal that Saudan Singh wants his close friend Saroj Dubey to become the chief minister of Chattisgarh instead of Raman.

Comments Off on Chhattisgarh’s numbers just don’t add up

Download
GossipGuru App
Now!!