नए राज के आगाज़ में स्वराज

December 19 2016


भाजपा की वरिष्ठ नेत्री सुषमा स्वराज अपनी किडनी के सफल प्रत्यारोपण के बाद एक नई सियासी पारी खेलने को तैयार बताई जाती हैं। सियासी हलकों में इस बात के काफी चर्चे हैं कि मैडम स्वराज को प्रधानमंत्री किसी संवैधानिक पद पर सुशोभित करना चाहते हैं। खास कर संघ के दो शीर्ष नेताओं भैयाजी जोशी व दत्तात्रेय होसबोले लगातार सुषमा के नाम को बतौर देश के अगले राष्ट्रपति के तौर पर प्रोजेक्ट करने में जुटे हैं, संघ के इन दोनों शीर्ष नेताओं की मुहिम को सरसंघचालक का मूक समर्थन बताया जा रहा है। वहीं भाजपा का एक धड़ा लोकसभा स्पीकर सुमित्रा महाजन का नाम भी अगले राष्ट्रपति के लिए उछाल रहा है। पार्टी के चंद वरिष्ठ दक्षिण भारतीय नेताओं की राय है कि भाजपा को किसी दक्षिण भारतीय व्यक्ति के नाम को राष्ट्रपति पद के लिए आगे बढ़ाना चाहिए, जिससे आने वाले चुनावों में दक्षिण के भगवा आकांक्षाओं का विस्तार हो सके। इस कड़ी में दो पूर्व मुख्य न्यायधीशों के नाम लिए जा रहे हैं। इनमें से एक केरल के गवर्नर पी सदाशिवम हैं तो दूसरा नाम जस्टिस के जी बालाकृष्णन का है। इन्हीं नामों में से उप राष्ट्रपति पद की दावेदारी पर भी विचार किया जा सकता है। सूत्रों के मुताबिक स्वास्थ्य, वरीयता, वाकपटुता को देखते हुए संघ इस दफे सुषमा स्वराज के नाम की पुरकश वकालत कर रहा है, तो क्या इससे यह समझा जाए कि देश को एक महिला राष्ट्रपति की सौगात मिलने वाली हैं?

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!