सचिन व भंवर अधर में

January 24 2018


राजस्थान के दो लोकसभा उपचुनाव अजमेर और अलवर के लिए कांग्रेस अपनी पूरी ताकत झोंक देना चाहती है। अपनी नयी ताजपोशी से उत्साहित राहुल गांधी भी इन दोनों उपचुनावों को लेकर खासे सक्रिय हैं। शुरुआत से ही राहुल चाहते थे कि अजमेर से प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष सचिन पायलट मैदान में उतरे जहां उनकी टक्कर अजमेर के दिवंगत सांसद सांवर लाल जाट के पुत्र से होनी थी, पर मामले की नाजुकता को भांपते हुए सचिन ने मैदान से हट जाना ही बेहतर समझा, उन्हें कहीं ना कहीं ऐसा लग रहा था कि यह पूरा उपचुनाव सहानुभूति की लहर पर जीता-हारा जाएगा। सचिन ने यह कहते हुए किनारा कर लिया कि वे अजमेर और अलवर दोनों ही जगह कांग्रेस को जिताने के लिए एड़ी चोटी का जोर लगाएंगे, वहीं सचिन के करीबी खुलासा करते हैं कि उन्हें डर लग रहा था कि वे यहां यानि अजमेर से चुनाव हार जाएंगे और ऐसा हुआ तो फिर राजस्थान का अगला सीएम बनने के उनके मंसूबे पर ग्रहण लग सकता है। वहीं दूसरी ओर राहुल करीबी भंवर जितेंद्र सिंह ने भी चुनावी जंग में उतरने से मना कर दिया, क्योंकि अलवर से भाजपा ने यहां के निवर्तमान विधायक और वसुंधरा सरकार में मंत्री जसवंत यादव को मैदान में उतारा है, एक यादव बहुल्य सीट होने की वजह से भंवर जितेंद्र सिंह को लगा कि उन्हें इस उप चुनाव में मुश्किल हो सकती है तो उन्होंने 71 वर्षीय करण सिंह यादव का नाम आगे कर दिया और खुद पीछे हो गए।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!