पुत्र प्रेम में नेताजी

June 10 2013


सपा सुप्रीमो मुलायम सिंह इन दिनों भारी पारिवारिक दबाव में बताए जाते हैं। यही वजह है कि इन दिनों मीडिया में कुछ बहके -बहके से बयान दे रहे हैं। लिहाजा पिछले दिनों लखनऊ में अखिलेश से मुलाकात के तुरंत बाद उन्होंने बयान दे दिया कि वे 15 दिनों से अखिलेश से मिले भी नहीं हैं। सूत्र बताते हैं कि नेताजी पर उनकी दूसरी पत्नी यानी प्रतीक यादव की मां का भारी दबाव है कि वे उनके पुत्र प्रतीक को लोकसभा का अगला चुनाव लड़वाएं। हालांकि प्रतीक की राजनीति में कम दिलचस्पी है, उनका रीयल इस्टेट का कारोबार है और बचे वक्त में वे बॉडी बिल्डिंग पर सारा घ्यान लगाते हैं। अब नेताजी की मुश्किल यह है कि उन्होंने यूपी से लोकसभा की सभी सीटों पर अपने उम्मीदवार घोषित कर दिए हैं। प्रतीक को किसी यादव बहुल सीट से लड़ाने का अर्थ होगा किसी भारी भरकम यादव नेता का टिकट काटना, पर पुत्र प्रेम में नेताजी को इतना तो करना ही होगा।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!