कौन सी है यह पार्टी?

January 03 2022


यूपी की एक प्रमुख पार्टी जिसने भाजपा के समक्ष घुटने टेक दिए हैं, चुनावी सेंसेक्स में लगातार इसका ग्राफ गिरता जा रहा है। क्योंकि इस बात का अब यूपी में खासा प्रचार हो चुका है कि यह पार्टी 22 के चुनावों में भाजपा की ’बी टीम’ बन कर खेलेगी। यही वजह है कि पार्टी की जमीनी ताकत और इसके सियासी प्रभुत्व में भी लगातार गिरावट आई है। सूत्रों की मानें तो पार्टी ने शुरूआत के छह टिकट 4 करोड़ प्रति विधानसभा की दर से नीलाम किया था, फिर यह दर घट कर 100 सीटों पर 1.50 से 3 करोड़ रूपयों तक चली गई, समय आगे बढ़ा तो इस पार्टी की जीत की संभावनाएं और पीछे रह गई, अब एक टिकट के लिए 65 लाख रूपए मांगे जा रहे हैं। जिसमें से 50 लाख पार्टी फंड और 15 लाख रैली में देने को कहा जा रहा था। फिलहाल 150 सीटें शेष रह गई है, पर पार्टी टिकट के बोली लगाने वाले दावेदार भी नदारद हैं, पैसा देकर टिकट लेने वाले अब 35-40 लाख रूपए खर्च को भी फिजूलखर्ची मान रहे हैं।

 
Feedback
 
Feedback
Name (required)
Email(required)
Comment
 
   
Download
GossipGuru App
Now!!