आइना मुझसे पहली सी सूरत मांगे

March 19 2022


5 राज्यों में कांग्रेस की करारी हार की समीक्षा के लिए पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने एक कमेटी का गठन किया है, हार की पड़ताल का जिम्मा भी उन्हीं नेताओं को सौंप दिया गया है, पार्टी कैडर जिन पर पहले से अंगुली उठाता आया है। जैसे उत्तराखंड के अधिकांश कांग्रेसी नेता राज्य में कांग्रेस की करारी पराजय के लिए वहां के प्रभारी देवेंद्र यादव, अविनाश पांडे और सह प्रभारी दीपिका पांडे को दोशी करार दे रहे थे। अब मजे की बात देखिए हार की समीक्षा के लिए सोनिया गांधी ने जो कमेटी बनाई उसमें अजय माकन के साथ अविनाश पांडे को भी शामिल कर लिया गया है। पंजाब की हार के लिए जो समीक्षा बैठक हुई, पंजाब के कांग्रेसी सांसदों की यह समीक्षा बैठक सीडब्ल्यूसी की बैठक से ठीक पहले हुई थी जिसमें कांग्रेसी सांसदों ने खुल कर कहा था कि ’घर को आग लगी घर के चिराग से’ यानी पार्टी हाईकमान ने जिन नेताओं को यहां टिकट वितरण की जिम्मेदारी दी थी, स्क्रीनिंग कमेटी का जिम्मा सौंपा था, वहीं से टिकट बिक गए। मुकुल वासनिक जैसे नेताओं ने खुल कर चंदन यादव को आड़े हाथों लेते हुए कहा था-’स्क्रीनिंग कमेटी के नाम पर लूट मची है, कांग्रेस की टिकटें बेची गई हैं तो रिजल्ट कैसे आएगा?’ अब सवाल उठ रहे हैं कि राहुल की टीम में वह कौन है जो अविनाश पांडे और चंदन यादव जैसे नेताओं को आगे बढ़ाता है, तो शक की सुई घूम-घाम कर अलंकार सेवई पर टिक गईं हैं।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!