संघ पर 100 करोड़ की मेगा फिल्म बनाएंगे बाहुबली के राइटर

April 16 2018


आप मौजूदा वक्त को प्रखर हिंदूवादी संगठन राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ का स्वर्णिम काल मान सकते हैं, संघ की बुलंदियों का सूरज सातवें आसमान पर चमक रहा है, और उसकी चिटकती धूप से जो चेहरा छू जाता है, चेहरे की भंगिमाएँ भगवा हो जाती हैं, पल भर के लिए ही सही। सो, तमाम मोर्चों पर भगवा पताका लहराने के बाद अब सुनने में आया है कि संघ के ऊपर 100 करोड़ की लागत से एक मेगा फिल्म का निर्माण हो रहा है। सूत्रों की मानें तो संघ के कर्णधारों को फिल्म ’बाहुबली’ की भव्यता व बॉक्स ऑफिस पर इसकी अपार सफलता इस कदर मोहित कर गई कि उन्होंने ’बाहुबली’ फिल्म के चर्चित निर्देषक एसएस राजा मौलि के पिता के वी विजेन्द्र प्रसाद से संपर्क साधा है। विजेन्द्र प्रसाद भी एक सुलझे हुए पटकथा लेखक व मंझे निर्देषक हैं। उनकी हालिया चर्चित फिल्मों में ’बाहुबली’ और ’बजरंगी भाईजान’ का नाम लिया जा सकता है। प्रसाद ने 2011 में एक चर्चित तेलुगू फिल्म ’रज्जन्ना’ को निर्देषित किया था जिसे बेस्ट फीचर फिल्म के नंदी अवार्ड से सम्मानित किया गया था। प्रसाद ने अपने फिल्म कैरियर की शुरूआत सन् 1988 में की और अब तक वे 25 से ज्यादा फिल्में लिख चुके हैं और इनमें से अधिकांश फिल्में सुपर-डुपर हिट रही हैं। सूत्र बताते हैं कि प्रसाद की यह फिल्म संघ के एक विहंगम रूप को सामने लाएगी, इसमें संघ की विचारधारा, आदर्ष, मिषन और उपलब्धियों को फिल्मी ताने-बाने में गुंथा जाएगा। इस फिल्म में डॉ. हेडगेवार, एमएस गोलवलकर, वीर सावरकर, के सुदर्षन और संघ प्रमुख मोहन भागवत के जीवन के प्रेरक किस्सों को एक सूत्र में पिरोया जाएगा और उसे नए कलेवर में पेष किया जाएगा जिससे कि नई पीढ़ी इससे प्रेरणा पा सके। सूत्र बताते हैं कि इस फिल्म के सिलसिले में प्रसाद की नागपुर में कई बैठकें हो चुकी हैं। इस प्रोजेक्ट से अक्षय कुमार व अजय देवगन जैसे अभिनेता भी जुड़ने को तैयार बताए जाते हैं। मूल फिल्म का निर्माण हिंदी में होगा और इसे तेलुगू, कन्नड़ जैसे क्षेत्रीय भाषाओं में डब किया जाएगा। 2019 में आम चुनावों से पहले देष भर में एक साथ इस फिल्म को रिलीज करने की तैयारी है। ज़रा आंखें मल कर धूप के उस पार देखो, देखना एक दिन उतर आएगा यह सुर्ख सूरज तेरे कांधों पर।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!