संघ के तेवर बदले से क्यों हैं

January 21 2019


संघ के एक प्रमुख नेता भैय्या जी जोशी का यह हालिया बयान वाकई चौंकाने वाला है कि राम मंदिर का निर्माण अब 2025 में होगा। यह बयान ऐसे वक्त में आया है जब भाजपा राम मंदिर के रथ पर सवार होकर 2019 की चुनावी वैतरणी को पार करना चाहती है। जबकि संघ नेतृत्व की मोदी-शाह द्वय से यह अपेक्षा थी कि संसद का संयुक्त अधिवेशन आहूत कर उसमें राम मंदिर मुद्दे पर वोट कराया जाना चाहिए था, इसके लिए एक अध्यादेश लाने की जरूरत थी। पर जैसा कि भाजपा के राष्ट्रीय अधिवेशन में अमित शाह जाने-अनजाने कह गए कि राम मंदिर मुद्दे पर कोर्ट के फैसले का इंतजार करना होगा, संघ नेतृत्व को यह बात किंचित नागवार गुजरी है। सन् 2025 में संघ की स्थापना के 100 वर्ष पूरे हो रहे हैं तो अब संघ चाहता है कि इस मौके को यादगार बनाने के लिए केंद्र रूढ़ सरकार भारत को हिंदू राष्ट्र घोषित करे और अयोध्या में राम मंदिर निर्माण को कृत संकल्प हो। शायद यही वजह है कि इन दिनों गडकरी और योगी संघ की आंखों के तारे बनकर उभरे हैं।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!