पीएम की रेस में पवार

November 20 2018


सूत्रों की माने तो अपने कोर ग्रुप की बैठक में राहुल गाँधी ने साफ कर दिया है कि 2019 में वे प्रधानमंत्री पद के दावेदार नहीं हैं। कहते हैं राहुल ने स्पष्ट तौर पर कहा है कि 19 में उनका असली इरादा मोदी और भाजपा को पुनः सत्ता में आने से रोकना है और इसके लिए वे महागठबंधन के किसी योग्य उम्मीदवार का पीएम पद के लिए समर्थन कर सकते हैं। इस कड़ी में कई नाम उमड़-घुमड़ कर रहे हैं। सबसे बड़ा नाम शरद पवार का है। दूसरा नाम चंद्रबाबू नायडू का है। मायावती और ममता बनर्जी का है। मराठा दिग्गज शरद पवार सबसे ज्यादा राजनैतिक रिश्तों में निवेश करते हैं। एक ओर जहाँ वे किसानों का मुद्दा उठाते हैं तो कारपोरेट जगत में भी उनके मित्रों की कमी नहीं है। सियासी दलों से भी उनके तार बखूबी जुड़े हैं। ममता बनर्जी से लेकर नवीन पटनायक से उनके मधुर रिश्ते हैं। अकाली दल के सुखबीर सिंह बादल भी उनके निरंतर संपर्क में बताए जाते हैं। चंद्रबाबू नायडू भले ही यह कह चुके हैं कि वे प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार नहीं हैं पर वे अपनी गोटियाँ चतुराई से खेल रहे हैं, ममता बनर्जी के लिए दिल्ली में उनके सांसद डेरेक ओ ब्रायन लाबिंग कर रहे हैं तो मायावती का भी इन दिनों अन्य पार्टी के नेताओं से मेल-जोल बढ़ गया है।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!