कमल पर बीस हैं नीतीश

February 12 2019


नीतीश कुमार का ’प्लॉन बी’ तैयार है और इस प्लॉन की रूप रेखा बनाने और उसे एक मुकम्मल चेहरा देने के लिए उनके बेहद भरोसेमंद प्रशांत किशोर बेहद सक्रिय हैं। दरअसल, सुशासन बाबू अपने दोनों हाथों में लड्डू रखना चाहते हैं, उनकी सोच है कि इस लोकसभा चुनाव के बाद कुछ और महीने ही उन्हें भाजपा के साथ रहना है और 20 के राज्य के विधानसभा चुनावों के ऐन पहले वे कमल पार्टी को टाटा-बाय-बाय कर देंगे और अपने दमखम पर अकेले विधानसभा का चुनाव लड़ेंगे या फिर इस बारे में कांग्रेस से बात कर लेंगे। सनद रहे कि बीते 2014 के चुनाव में राज्य की सभी सीटों पर जदयू अकेले लड़ी थी और तब उसके हाथ महज 2 सीटें आई थीं। 2009 का चुनाव नीतीश ने बीजेपी के साथ मिल कर लड़ा था, तब गठबंधन में उनके हिस्से 25 सीटें आई थी, जिसमें 20 पर उनके उम्मीदवार जीत गए थे। भाजपा के हिस्से 15 सीटें आई थीं जिसमें से 12 सीटों पर कमल खिल गया था। अब 2019 के चुनाव में जदयू और भाजपा 17-17 सीटों पर चुनाव लड़ रहे हैं। नीतीश को उम्मीद है कि इन 17 सीटों पर लड़ कर वह जदयू का बेस बना पाएंगे और फिर भाजपा से टूट कर अपनी इमेज बना पाएंगे।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!