मैं नहीं तो मेरे लोग सही

July 01 2019


मोदी कैबिनेट 2.0 में जो लोग मंत्री पद पाने से चूक गए, इन दिनों वे अपने पसर्नल स्टाफ को अन्य मंत्रियों के यहां खपाने में जुटे हैं। पर कई दिग्गज ऐसे भी हैं जिन्हें मंत्रिमंडल के अगले फेरबदल का इंतजार है और वे इस उम्मीद में बैठे हैं कि अगली दफे उनका नंबर फिर से लग सकता है। पर मोदी सरकार एक में स्वास्थ्य मंत्रालय का जिम्मा संभाल चुके जेपी नड्डा के लिए अब ऐसी कोई उम्मीद नहीं बची है, चूंकि वे भाजपा के नए कार्यकारी अध्यक्ष हो गए हैं। सूत्र बताते हैं कि पिछले दिनों उन्होंने प्रह्लाद जोशी को फोन कर के कहा कि चूंकि जोशी के पास तीन मंत्रालयों का जिम्मा है सो, वे उनके कुछ लोग अपने मंत्रालय में रख लें। कहते हैं जोशी ने अपने कार्यकारी अध्यक्ष की इच्छाओं का सम्मान करते उनके कई लोगों को अपने पास रख लिया। चूंकि जोशी अनंत कुमार को अपना राजनैतिक गुरू मानते रहे हैं, सो अनंत कुमार के दिवंगत हो जाने के बाद भी उन्होंने अपने राजनैतिक गुरू के कई लोगों को अपने स्टाफ में रख लिया। मनोज सिन्हा मोदी सरकार-एक में दूरसंचार और रेलवे जैसे कई अहम मंत्रालयों को संभाल चुके थे, सो वे अपने निवेदन के साथ अपने यूपी के ही अन्य नेता महेंद्र नाथ पांडेय के पास पहुंचे, पांडेय साहब ने भी उनकी इच्छाओं को शिरोधार्य करते सिन्हा के कई लोगों को अपने साथ रख लिया। पर कुछ मंत्री ऐसे भी थे जिन्होंने ऐसे अनुरोधों को अनसुना कर दिया। कुछ पूर्व मंत्रियों ने अपनी बातें पीएमओ और अमित शाह के माध्यम से मंत्रियों तक पहुंचवा दी।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!