नायडू पर भगवा नज़र

June 18 2018


आंध्र के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू का एक ड्रीम प्रोजेक्ट पुलावरम इरिगेशन प्रोजेक्ट था, इसका खर्च तकरीबन 25 हजार करोड़ आंका गया था, सूत्र बताते हैं कि इस प्रोजेक्ट की बाबत जब नायडू ने स्वयं प्रधानमंत्री मोदी से बात की तो उन्हें वहां से इसे लेकर हरी झंडी हासिल हो गई। इसके बाद नायडू अपने काम पर जुट गए। प्रोजेक्ट का काम शुरू हुआ और नायडू ने केंद्रीय वित्तीय मदद के लिए दिल्ली सारे कागजात भिजवा दिए, जब बहुत दिनों तक केंद्र की ओर से पैसा रिलीज नहीं हुआ तो नायडू ने इसकी केंद्र से वजह जाननी चाही, कहते हैं तब उन्हें बताया गया कि इस प्रोजेक्ट में संलग्न कई बिल फर्जी है, नायडू ने केंद्र के समक्ष अपनी नाराज़गी जताई, पर इस बाबत न तो उस वक्त के वित्त मंत्री जेटली का कोई बयान सामने आया और ही नीति आयोग ने इस पर अपनी कोई प्रतिक्रिया दी। तब नायडू के एक मुंहलगे पत्रकार ने उन्हें सलाह दी कि क्यों नहीं वे इस बारे में अमित शाह से बात करते हैं। इस पर नायडू ने एक गहरी चुप्पी साध ली, एक गहरी सारगर्भित चुप्पी, जिसके मुहाने पर एनडीए से अलगाव का बड़ा लावा फूट रहा था।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!