राम का नाम बदनाम न करो

December 27 2018


उच्च पदस्थ सूत्रों के दावों पर अगर यकीन किया जाए तो इस दफे के 5 राज्यों के विधानसभा चुनावों के नतीजे आने से दो दिन पहले दिल्ली के संघ मुख्यालय में अमित शाह, विश्व हिंदू परिषद के अध्यक्ष जस्टिस सदाशिव कोकजे और संघ के वरिष्ठ पदाधिकारियों की एक अहम बैठक हुई। जिसमें विहिप की ओर से भाजपाध्यक्ष को कहा गया कि ’विहिप चाहती थी कि राम मंदिर के मुद्दे को इन चुनावों में सांकेतिक तौर पर उठाया जाए पर आपने तो राम मंदिर को ही इन चुनावों का सबसे प्रमुख मुद्दा बना दिया। शायद यही कारण है कि हम तीनों हिंदी भाषी राज्यों में हार रहे हैं।’सूत्र बताते हैं कि हालिया विधानसभा चुनावों के नतीजे सामने आने पर संघ ने भाजपा हाईकमान से कहा है कि राम मंदिर के मुद्दे पर जनता हमें रिजेक्ट कर रही है, अब इस पर अध्यादेश की बात भी बेमानी है। सो, अब बात हो सिर्फ कानून की इसमें न्यायिक प्रक्रिया पूरी होनी चाहिए और हमें सुप्रीम कोर्ट के फैसले का इंतजार करना चाहिए।

 
Feedback
 
Download
GossipGuru App
Now!!