Archive | May, 2019

मैं तो बोलूं तेरी बोली

Posted on 14 May 2019 by admin

याद करिए जब पीएम मोदी के चुनावी दौरे के वक्त उनके हेलिकॉप्टर से एक काले रंग का बक्सा यानी एक ब्लैक बॉक्स मिला था तो उसको लेकर विरोधी दलों ने भी खूब हाय-तौबा मचाई थी। और यहां तक कि उस जांच करने वाले आईएएस अधिकारी को भी बिलावजह सस्पेंड कर दिया गया था। पर यह सस्पेंस लगातार बना रहा कि आखिरकार उस ब्लैक बॉक्स में था क्या? अब जाकर खुलासा हुआ है कि दरअसल उस ब्लैक बॉक्स में एक ’टेलीप्राम्प्टर’ था, जो पीएम की हर सभा के पहले गंतव्य तक पहुंचा दिया जाता था। और उनकी चुनावी रैलियों में यह लगा दिया जाता था। सनद रहे कि टेलीप्राम्प्टर में ही शब्दों की पूरी माला कैद रहती है, और वक्ता उसके माध्यम से जुमलों की जुगाली कर सकता है। पहले जब मोदी को अपनी सार्वजनिक सभाओं में बोलना होता था तब वे टेलीप्राम्प्टर का सहारा लेते थे, पर अब तो इन चुनावों में एक नया ट्रेंड देखने को मिल रहा है।

Comments Off

क्या होगा अटार्नी जनरल का?

Posted on 14 May 2019 by admin

इस दफे केंद्र में नई सरकार के गठन के बाद अटार्नी जनरल के के वेणुगोपाल की नौकरी बनी रहेगी, सवाल यह बहुत बड़ा है। दरअसल, वेणुगोपाल ने कई ऐसी राय व्यक्त कर दीं जो सरकार की राय से मेल नहीं खाती थी। अभी सुप्रीम कोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पर लगे यौन उत्पीड़न के आरोपों पर अटार्नी जनरल ने अपनी राय व्यक्त करते हुए कह दिया-’इस मामले की जांच रिटायर जजों विशेष कर महिला जजों से करानी चाहिए। तब इसमें विश्वसनीयता का संकट नहीं आएगा।’ जब उनके बयान पर खूब हाय-तौबा मचनी शुरू हुई तो अटार्नी जनरल ने एक पत्र लिख कर सफाई दी कि ’यह उनकी निजी राय है, इससे सरकार का कोई लेना-देना नहीं।’ इससे पहले भी राफेल मामले पर केंद्र सरकार से उनके मतभेद सामने आए थे जब इन्होंने कोर्ट में कह दिया था कि ’राफेल के पेपर चोरी हो गए हैं।’ लगता है जैसे वेणुगोपाल ने तो मोदी सरकार की नींद ही चुरा ली है।

Comments Off

मंत्री जी का होटल

Posted on 14 May 2019 by admin

यह केंद्रीय मंत्री यूं तो ईमानदार नेताओं में शुमार होते हैं और वे मोदी के जितने दुलारे हैं उतने ही संघ की आंखों के भी तारे हैं। सनद रहे कि इनके पास ही पीएम के संसदीय सीट वाराणसी का भी प्रभार है। हालिया दिनों में एक शानदार पंचतारा टाइप होटल से वे चर्चा में आए हैं, जो होटल वाराणसी के मलदहिया में बना है। सूत्रों का दावा है कि इस होटल का मालिकाना हक मंत्री जी का ही है। यह होटल पिछले महीने ही शुरू हुआ है जब आम चुनाव की रणभेरी बज चुकी थी। यह होटल भले ही गंगा से दूर हो पर अपनी सरकार की उपलब्धियां गिनाने के लिए मंत्री जी पत्रकारों को यहीं बुलाते हैं, जहां निरीह पत्रकारों की खूब आव-भगत भी होती है। कहते हैं अगर केंद्र में एक बार फिर से भगवा परचम लहराया तो यह होटल वाराणसी में नंबर वन हो जाएगा।

Comments Off

ईवीएम का दम

Posted on 14 May 2019 by admin

ईवीएम को लेकर विपक्षी पार्टियों ने एक बार फिर से देश भर में समां बांध दिया है। देश भर में कुल ईवीएम की संख्या को लेकर एक आरटीआई एक्टिविस्ट मनोरंजन राय ने जानकारी चाही थी। तो ईवीएम निर्माण करने वाली कंपनी ’भारत इलेक्ट्रॉनिक्स लिमिटेड’ ने इसका जवाब देते हुए 1 करोड़ 22 लाख ईवीएम होने की बात कही थी। वहीं चुनाव आयोग का दावा है कि उसके पास मात्र 1 करोड़ ईवीएम है। अब यह 22 लाख ईवीएम सवालों के घेरे में है कि इसे जमीं खा गई या आसमां निगल गया? विपक्षी दल भी अब इसी बात को लेकर हाय-तौबा मचाने वाले हैं।

Comments Off

गांधी परिवार में मनमुटाव

Posted on 14 May 2019 by admin

माना जाता है कि गांधी परिवार में यह एक अघोषित समझौता है कि परिवार का कोई भी व्यक्ति चाहे वे विरोधी पार्टियों में ही क्यों न हो वह परिवार के खिलाफ नहीं जाएगा। राहुल गांधी और वरूण गांधी दो चचेरे भाईयों ने सदैव इस अघोषित समझौते का सम्मान किया है। पर इस बार जब प्रियंका गांधी कांग्रेस प्रत्याशी संजय सिंह का प्रचार करने सुल्तानपुर पहुंच गईं तो कई सवाल एक साथ उठे कि क्या प्रियंका अपनी चाची मेनका गांधी के खिलाफ चुनावी बिगुल फूंकेंगी? एक पत्रकार ने तो बकायदा प्रियंका से यह सवाल पूछ ही लिया कि ’क्या वह अपनी चाची की मुखालफत करने यहां आईं हैं?’ तो अपने को संयत रखने का भरसक प्रयत्न करते हुए प्रियंका ने कहा कि ’उनका यह रोड शो किसी व्यक्ति विशेष (मेनका) की खिलाफत के लिए नहीं है, अपितु उनका यह रोड शो भाजपा के खिलाफ हैं।’ प्रियंका का यह जवाब भले पालिटिकली करेक्ट हो सकता है, पर इस वक्त उनके मन में क्या चल रहा है, इतना तो लोग समझ ही चुके थे।

Comments Off

यूपी में भगवा दांव में उलझी साइकिल

Posted on 14 May 2019 by admin

2019 में बहुमत के जादुई आंकड़े को छूने में भगवा राहों में सबसे ज्यादा कांटा यूपी बिछा रहा है। जहां सपा-बसपा व अजीत सिंह के गठबंधन से भगवा माथे पर शिकन उभर रही है, और तमाम जनमत सर्वेक्षणों में यह दावा हो रहा है कि यूपी में इस बार भाजपा 40 से 50 सीटें गंवा सकती है। सपा-बसपा रिश्तों में डेंट लगाने का योगी सरकार ने एक नायाब तरीका ढूंढ निकाला है। सूत्रों की मानें तो यूपी में जब भी कोई दलित किसी यादव जाति के व्यक्ति द्वारा प्रताड़ित होता है तो योगी प्रशासन चौकस कार्यवाई करते हुए उस यादव पर एससी-एसटी एक्ट के तहत कार्यवाही करते उसे फौरन गिरफ्तार कर जेल भेज देता है। ताकि सपा समर्थकों के मन में यह भाव तीव्रता से जागृत हो सके कि एक ओर हम तो बसपा उम्मीदवारों का समर्थन कर रहे हैं, वहीं बसपा अपनी पुरानी दुश्मनी चालू रख कर किसी बहाने हमारे लोगों को जेल भिजवा रही है। ’फूट डालो और शासन करो’ की यह नीति तो अंग्रेजों के जमाने से चली आ रही है।

Comments Off

केसीआर का सियासी वार

Posted on 14 May 2019 by admin

तेलांगना के मुख्यमंत्री और टीआरएस के मुखिया चंद्रशेखर राव सियासत के छुपे रूस्तम साबित हो रहे हैं। वे भी मोदी से प्रेरित होकर राज्य के मीडिया का अपने हक में इस्तेमाल करना सीख गए हैं। इसके लिए न सिर्फ वह मीडिया पर दोनों हाथों से धन लुटा रहे हैं, बल्कि जरूरत पड़ने पर उसकी गर्दन पर हाथ भी रख रहे हैं। पिछले दिनों उन्होंने पाया कि राज्य का एक प्रमुख भाषायी चैनल उनकी सरकार की नीतियों की बखिया उधेड़ रहा है और उनके प्रतिद्वंद्वी चंद्रबाबू नायडू की तारीफों के पुल बांध रहा है तो उन्होंने फौरन इसके कारणों का पता लगवाया। तब उन्हें सूचना मिली कि इस चैनल का प्रमुख कम्मा जाति से ताल्लुक रखने के साथ चंद्रबाबू के बेहद करीबियों में शुमार होते हैं। केसीआर ने इस चैनल के मालिकों से बात कर फौरन उस व्यक्ति को बाहर का रास्ता दिखाया। केसीआर ने मोदी और कांग्रेस दोनों से अपने तार जोड़ रखे हैं और वक्त आने पर ही वे अपना पत्ता खोलेंगे।

Comments Off

बंगाल में भगवा उछाल

Posted on 14 May 2019 by admin

पश्चिम बंगाल को लेकर इस दफे भाजपा की उम्मीदें बम-बम हैं, भाजपा के शाह जहां बंगाल में 20-21 सीटें मिलने का दावा कर रहे हैं, वहीं विश्लेषक बताते हैं कि भाजपा यहां 6-8 सीटें जीतने की स्थिति में है। पर हां भाजपा के वोट शेयर में अप्रत्याशित उछाल देखने को मिल सकता है। हालिया संपन्न हुए राज्य के पंचायत चुनावों में तृणमूल का वोट शेयर 40 फीसदी के आसपास था और भाजपा का 19 प्रतिशत। इस दफे बंगाल में सीपीएम और कांग्रेस जैसे दल हाशिए पर चले गए हैं और तृणमूल और भाजपा में आमने-सामने की लड़ाई है। पर इस बॉयोपोलर लड़ाई का फायदा तृणमूल को मिल सकता है, उसके वोट षेयर में मामूली बढ़त ही (44 फीसदी के आसपास) दर्ज होगी पर सीटों के मामले में वह फायदे में रहेगी। वहीं भाजपा का वोट शेयर 13 फीसदी से बढ़ कर 30 फीसदी तक हो सकता है, पर यह प्रतिशत सीटों में कम ही तब्दील होगा।

Comments Off

…और अंत में

Posted on 14 May 2019 by admin

इस बार चुनावी हवाओं का रूख भांपते नरेंद्र मोदी ने भी अपने प्रचार-प्रसार अभियान में भी किंचित बदलाव किया है नहीं तो 2014 के आम चुनाव के वक्त मोदी चुनाव के अंतिम चरण आने से पहले अखबार व न्यूज चैनलों से बातचीत थी। यह सिलसिला कहीं पहले शुरू हो गया है। इस बार तो पीएम एक बदली भाव-भंगिमाओं के साथ सामने आ रहे हैं, अपना चुनावी भाषण समाप्त कर वे फौरन अपने कुछ खास पत्रकारों को बाईट भी दे देते हैं।
(एनटीआई- gossipguru.in)

Comments Off

कांग्रेस हमलावार पर पीएम भी हैं खबरदार

Posted on 14 May 2019 by admin

’अपने तमाम गिले-शिकवों तेरे जूड़ों में फूलों की तरह सजाया है हमने, यह और बात है कि तुम गेसुओं को बिलावजह झटक कर आगे निकल जाते हो।’ 2019 के इस चुनावी महासंग्राम में कांग्रेस चुनाव आयोग को यह कहने का मौका रत्ती भर भी नहीं देना चाहती कि उन्हें इस बाबत कोई शिकायत नहीं मिली। सो, एक बदली भाव-भंगिमाओं के साथ कांग्रेस इसे हर छोटी से छोटी बात के लिए भी नोटिस दे रही है। पिछले दिनों कांग्रेस ने आयोग के समक्ष पीएमओ को आड़े हाथों लिया। कांग्रेस ने अपनी शिकायत में बताया कि अभी पीएमओ ने तीन जिलों के जिलाधिकारियों को ई-मेल भेज कर उक्त जिलों से संबंधित अलग-अलग जानकारियां मांगी हैं, जिसमें उस जिले की ऐतिहासिक, सांस्कृतिक जानकारियों के अलावा जातीय समीकरणों का भी पूरा ब्यौरा मांगा गया है। सनद रहे कि इन तीनों जिलों में ही पीएम की रैलियां प्रस्तावित थीं। इतने होमवर्क के बावजूद अपने पीएम साहब कुछ नादानियां कर ही जाते हैं जैसे उन्होंने अपने एक उद्बोधन में गुरू नानक, कबीर और बाबा गोरखनाथ को एक साथ बैठे बता दिया। वैसे भी मोदी इतिहास की ज्यादा फिक्र नहीं करते उनका सारा फोकस भारत के भविश्य पर है।

Comments Off

Download
GossipGuru App
Now!!